Followers

Saturday, June 27, 2009

फना

चलो अब ये किस्सा ख़त्म कर दे
अब ख़ुद को फना हम कर दे !!

सब का दिल तोडा है सब को सताया है
अब तो दुनिया पे रहम कर दे
अब ख़ुद को फना हम कर दे !!!

हँसते है मुस्कराते है लगता है की खुश है हम
चलो आज दूर दुनिया का वहम कर दे
अब ख़ुद को फना हम कर दे !!

जब भी दिल लगाया धोखा ही खाया
किसी पे भी विश्वास करने का नतीजा शुन्य ही पाया
अब बस इतना सा अपने पे करम कर दे
अब ख़ुद को फना हम कर दे !!

5 comments:

shubham jain said...

very gud written as usual..

EKTA said...

gud thinking..
keep it up

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

खूबसूरत रचना

वीना said...

बढ़िया...

Dorothy said...

खूबसूरत प्रस्तुति. आभार.
सादर,
डोरोथी.

Related Posts with Thumbnails