Followers

Wednesday, July 25, 2012

आखिर क्या देख रहा है ?


गुवाहटी कि शर्मनाक घटना के बाद , यशवंतपुर मैसूर ट्रेन में एक लड़की के साथ वही हरकत दोहराई गयी , लेकिन समाज मीडिया और आम जन सिर्फ ख़ामोशी से तमाशा देख रहें है :) जागो इंडिया जागो ||

जिस के आँचल में पल कर.. बड़ा हुआ जग  
आज उजड़ता हुआ उसका बदन , तार तार देख रहा है 

दिमाग  पर काला चश्मा लगा कर 
 हर व्यक्ति ये समाचार देख रहा है ?

वो जो शख्स आँखों से , स्त्री पर अत्याचार देख रहा है
वो अपनी ही  मौत का इंतजार देख रहा है !!

दूध का कर्ज चुकाएगा क्या कोई ?
यहाँ हर शख्स स्त्री का व्यपार देख रहा है ||

मंदिर में देवी को पूजने वालों , बंद करों ड्रामा 
तुम्हारा असली चेहरा, सारा  संसार देख रहा है 

हर पुरुष के रगों में स्त्री के खून का कतरा ?
आज खुद से खुद का ही,  बलात्कार देख रहा है ?

चुल्लू भर पानी ना मिले , तो चूड़ियाँ पहन लो 
वो हर शख्स जो मजे से, शिकार देख रहा है | 

independent देश के वीर जवान impudent हो गयें है ? 
अँधा समाज/ कानून  एक जैसी हरकतें बार बार देख रहा है |

वो जो शख्स खुली आँखों से , स्त्री पर अत्याचार देख रहा है 
वो अपनी ही  मौत का इंतजार देख रहा है !!


1 comment:

Madan Mohan Saxena said...

बेह्तरीन अभिव्यक्ति .आपका ब्लॉग देखा मैने और नमन है आपको
और बहुत ही सुन्दर शब्दों से सजाया गया है लिखते रहिये और कुछ अपने विचारो से हमें भी अवगत करवाते रहिये.

http://madan-saxena.blogspot.in/
http://mmsaxena.blogspot.in/
http://madanmohansaxena.blogspot.in/

Related Posts with Thumbnails